Tag Archives: आयरिश क्रीम

लिकूर या कॉर्जल (Liqueur or Cordial)

तेज मीठी, सुगन्धित और स्वादयुक्त मदिरा को यूरोप में लिकूर और अमेरिका में कॉर्जल (या कॉर्डियल) कहते हैं। इनमें 15 से 70% (सामान्यतया 25%) एल्कॉहल और 5 से 25% तक शर्करा होती है। 8% से कम शर्करा वाले लिकूर को ड्राई लिकूर बोला जाता है। इनका प्रयोग सीधे पीने के अलावा बहुत से कॉकटेल और मीठे व्यंजनों जैसे केक, पाई, आइसक्रीम, चाय, कॉफ़ी इत्यादि में मिठास बढ़ाने वाले अवयव की तरह किया जाता है। इनके बहुत से ब्रांड बाजार में उपलब्ध हैं परन्तु इनमें से अधिकतर को बहुत आसानी और थोड़े संयम से घर में बनाया जा सकता है। इनमें स्प्रिट और चीनी के अलावा एक या कई स्वाद और सुगन्ध वर्धक पदार्थ जैसे फल, मसाले, कॉफ़ी, मेवे और फूल आदि मिले होते हैं। ये लगभग सभी प्रकार की स्प्रिट (वोडका, रम, ब्रांडी और व्हिस्की) से बनाये जा सकते हैं। एक बार इन्हें बनाने के बाद दो सप्ताह से तीन माह तक के परिपक्वन की आवश्यकता होती है। इस समय में एल्कॉहल और मिलाये गये तत्व आपस में अच्छी तरह से मिलकर एक नये स्वाद को जन्म देते हैं। लिकूर बनाना लगभग अचार या मुरब्बा बनाने जैसा ही है, अन्तर केवल यह है कि अचार को धूप और हल्की गर्मी में रखा जाता है जबकि लिकूर अंधेरे और ठंडे वातावरण में बनाया जाता है।

कुछ प्रमुख लिकूर ब्रांड निम्न हैं:

कॉफ़ी लिकूर (Coffee liqueurs): ख़ालूआ (Kahlúa), टिया मारिया (Tia Maria)

क्रीम लिकूर (Cream liqueurs): बेलीज़ आयरिश क्रीम (Baileys Irish Cream)

क्रेम1 लिकूर (Crème liqueurs): क्रेम डे बनान (Crème de Banane), क्रेम डि कोको (Crème de Cacao), क्रेम डि कासिस (Creme de cassis), क्रेम डि मेन्थ (crème de menthe)

फलों के लिकूर (Fruit liqueurs): क्वान्ट्रोह (Cointreau), ट्रिपल सेक (Triple sec), कूरासाओ लिकूर (Curaçao liqueur), लिमॉनसेलो (Limoncello), प्रूनेल (Prunelle), माराशीनो (Maraschino), शॉमबोर लिकूर (Chambord liqueur)

सूखे फलों के लिकूर (Nut-flavored liqueurs): अमरेटो (Amaretto), राटाफ़िया (Ratafia)

मसालों के लिकूर (Herbal liqueurs): एनिसेट (Anisette), गैलियानो (Galliano), हर्बसेंन्ट (Herbsaint), सैम्ब्यूका (Sambuca)

व्हिस्की लिकूर (Whisky liqueurs): ड्रैम्बूई (Drambuie), आयरिश मिस्ट (Irish Mist), जेरेमाया वीड (Jeremiah Weed), यूकॉन जैक (Yukon Jack)

मूलतः किसी भी स्वादयुक्त फल, फूल या खाद्य पदार्थ को स्प्रिट और चाशनी में लीन कराके एक नये प्रकार का लिकूर बनाया जा सकता है।

घर में लिकूर बनाने की साधारण विधि

आवश्यक सामग्री:
स्प्रिट (वोडका, ब्रांडी, रम या व्हिस्की) – 2 से 3 कप
चीनी – 2 कप
शुद्ध जल – 1 कप
स्वादवर्धक पदार्थ (फल, मसाले, कॉफ़ी इत्यादि) – स्वादानुसार (1/2 से 1 कप)
एक अच्छी तरह से बन्द होने वाली काँच की बोतल और छन्नी

विधि: सबसे पहले चीनी और पानी को 2:1 के अनुपात में लेकर उससे धीमी आँच पर चाशनी बनायें। अब उसे कमरे के ताप तक ठंडा होने दें और उसके बाद बचे हुई सभी सामग्री (स्प्रिट, स्वादवर्धक तत्व इत्यादि) उसमें मिला दें। अब इस मिश्रण को एक वायुरुद्ध बोतल में बन्द करके किसी अंधेरे और शीतल स्थान में रख दें। 2 से 4 सप्ताह के बाद मिश्रण को छानकर उससे ठोस पदार्थ को निकाल लें और यदि आवश्यकता पड़े तो मिश्रण को और बारिक छन्नी या पतले साफ कपड़े से भी छानें। अब पुनः इसे एक साफ वायुरुद्ध बोतल में बन्द करके 1 माह के लिये ठंडे और अंधेरे स्थान पर रख दें। आपका घर में बना लिकूर तैयार है।

नीचे दिये गये लिंक पर आप अनेकों प्रकार के लिकूर बनाने का नुस्ख़ा प्राप्त कर सकते हैं।
http://www.liqueurweb.com/links.htm

__________

1क्रेम (Crème) लिकूर में काफी मात्रा में चीनी होती है जिससे कि वह क्रीम की तरह गाढ़ा हो जाता है। इसमें दूध की क्रीम नहीं होती है।

टिप्पणी करे

Filed under मदिराओं के प्रकार